Home Viral सच्चाई #FactCheck 21 सितंबर से स्कूल खुलने का दावा है फर्जी, केवल इन...

#FactCheck 21 सितंबर से स्कूल खुलने का दावा है फर्जी, केवल इन शर्तों पर स्कूल जा सकेंगे बच्चे

क्या अनलॉक—4 में 21 सितंबर से सभी स्कूल खोलने के आदेश दिए गए हैं? क्या ऐसा कोई बयान शिक्षा मंत्री ने दिया है? सोशल मीडिया पर इस तरह की पोस्ट वायरल हो रही है.

क्या अनलॉक—4 में शिक्षा मंत्री ने बयान दिया है कि 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए स्कूल खोल दिए जाएंगे? साथ ही 1 अक्टूबर से सभी कॉलेजों में पढ़ाई शुरू हो जाएगी? ऐसे कई मैसेज सोशल मीडिया पर लोगों को परेशान किए हुए हैं. फेसबुक पर कई न्यूज पेजेस पर इस तरह के मैसेज देखे जा सकते हैं.

कोविड—19 के कारण अभी तक स्कूल और कॉलेज बंद चल रहे हैं. केवल आॅनलाइन क्लासेज चल रही हैं. इस बीच कुछ खबरें आ रही हैं. TAB News नाम से बने फेसबुक पेज पर 7 सितंबर को यह सूचना पोस्ट की गई. इसके अनुसार,
1 अक्टूबर से सभी कॉलेजों में शुरू हो जाएगी पढ़ाई
शिक्षा मंत्री का बयान -1 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी सभी कॉलेज में पढ़ाई
उन्होंने विस्तार से बताया कि 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए खोल दिए जाएंगे स्कूल. उसके 15 दिन के बाद 6th से लेकर आठवीं तक खोल दिए जाएंगे स्कूल और फिर उसके 15 दिन बाद पहली से लेकर पांचवी तक के स्कूल खुले जाएंगे.
रही बात यूनिवर्सिटी की तो वो अपने एग्जाम के बारे में स्वयं तय करेगी कि कैसे लिया जाये.
अगले हफ्ते शुरू हो सकती हैं कॉलेज में एडमिशन प्रक्रिया.

1 अक्टूबर से सभी कॉलेजों में शुरू हो जाएगी पढ़ाई शिक्षा मंत्री का बयान -1 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी सभी कॉलेज में पढाई…

Posted by TAB News on Sunday, September 6, 2020

News N T 24 ने इसी तरह की सूचना को 6 सितंबर की रात 11.30 पर पोस्ट किया. इसमें लिखा,
ब्रेकिंग न्यूज़ शिक्षा विभाग-
शिक्षा मंत्री का बयान 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए खोल दिए जाएंगे स्कूल
15 दिन के बाद 6th से लेकर आठवीं तक खोल दिए जाएंगे स्कूल
उसके बाद 15 दिन बाद पहली से लेकर पांचवी तक के स्कूल खुले जाएं— शिक्षा मंत्री
यूनिवर्सिटी अपने तय करेगी कि एग्जाम कैसे लिया जाए
अगले हफ्ते शुरू हो सकती हैं कॉलेज में एडमिशन प्रक्रिया
1अक्टूबर से सभी कॉलेजों में क्लास हो जाएगी शुरू

ब्रेकिंग न्यूज़ शिक्षा विभाग -*शिक्षा मंत्री का बयान 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए खोल दिए जाएंगे…

Posted by News NT 24 on Sunday, September 6, 2020

Gorakhpur Express ने 5 सितंबर को इस तरह की पोस्ट की. खबर हरियाणा नाम से बने फेसबुंक पेज पर 31 अगस्त को यह जानकारी शेयर की गई थी.

ब्रेकिंग न्यूज़ शिक्षा विभाग शिक्षा मंत्री का बयान 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए खोल दिए जाएंगे…

Posted by Gorakhpur News on Friday, September 4, 2020

*ब्रेकिंग न्यूज़ शिक्षा विभाग**शिक्षा मंत्री का बयान 21 सितंबर से 9वीं से लेकर 12वीं तक बच्चों के लिए खोल दिए जाएंगे…

Posted by खबर हरियाणा on Monday, August 31, 2020

इस बारे में PIB Fact Check @PIBFactCheck ने 7 सितंबर को ट्वीट कर इस पोस्ट को फेक बताया. ट्वीट के अनुसार,
दावा:एक #WhatsApp फॉरवर्ड मे शिक्षा मंत्री के हवाले से दावा किया जा रहा है कि 21 सितम्बर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोले जाएंगे.

#PIBFactCheck: शिक्षा मंत्री ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है. #Unlock4Guidelines के अनुसार 9वी-12वी कक्षा के छात्र शिक्षकों से परामर्श के लिए स्कूल जा सकते हैं.

PIB Tweet on School Opening from 21 september

पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें.

इसके बाद The News Postmortem ने केंद्र सरकार द्वारा जारी अनलॉक—4 गाइडलाइंस पर भी नजर डाली. उसमें लिखा था कि स्कूल, कॉलेज, एजुकेशन और कोचिंग संस्थान 30 सितंबर तक छात्रों के लिए बंद रहेंगे. 30 सितंबर तक स्कूलों में कोई भी क्लास संबंधी गतिविधि नहीं होंगी. केवल आॅनलाइन या डिस्टेंस लर्निंग वालों को अनुमति होगी. राज्य सरकार 50 फीसदी टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को स्कूल बुलाया जा सकता है. इनको आॅनलाइन टीचिंग या टेलीकाउंसलिंंग और इससे संबंधित कार्यों के लिए ही बुलाया जा सकता है. इसमें भी शर्त यह है कि स्कूल या क्षेत्र कंटोनमेंट जोन से बाहर होना चाहिए. साथ ही मिनिस्ट्री आॅफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ारा जारी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा मतलब Standard Operating Procedure (SOP) को मानना होगा. इसके अलावा 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं तक के बच्चे कॉटेनमेंट जोन से बाहर टीचर से गाइडेंस लेने स्कूल जा सकते हैं. इसके लिए उनको अपने पैरेंट्स या गार्जियन की परमीशन दिखानी होगी.

Ministry Of Health Affairs Guidelines for unlock-4

MHA की गाइडलाइंस देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Postmortem रिपोर्ट: 21 सितम्बर से चरणबद्ध तरीके से स्कूल खोले जाने का दावा फर्जी है. 9वीं से लेकर 12वीं तक के स्टूडेंट केवल अपने टीचर से गाइडेंस लेने के लिए स्कूल जा सकते हैं. इसके लिए उन्हें अपने माता—पिता की परमीशन दिखानी होगी. साथ ही रेगुलर क्लासेज के लिए स्कूल खोले जाने की अभी कोई गाइडलाइन जारी नहीं हुई है. आठवीं तक की क्लासेज के लिए भी अभी स्कूल खुलने की कोई सूचना नहीं है. शिक्षा मंत्री के बयान के साथ किया जा यह दावा फर्जी है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : झूठ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash