Home COVID-19 Truth #FactCheck इम्यूनिटि बूस्टर है 'नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स'

#FactCheck इम्यूनिटि बूस्टर है ‘नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स’

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें दावा किया गया कि यह स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग के भतीजे अमित गर्ग का वीडियो है. इसमें वह 'Navgrah Immunity Builder Drops' को इम्यूनिटि बूस्टर के तौर पर प्रयोग करने की सलाह दे रहे हैं.

देश में कोविड—19 के केस तेजी से बढ़ रहे हैं. हालत यह है कि अब रोज 70 हजार के लगभग मरीज सामने आ रहे हैं. हांलाकि, रिकवरी रेट भी बढ़ गया है. इस बीच एक वीडियो वायरल हो रहा है. दावा किया गया कि यह स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग के भतीजे अमित गर्ग का वीडियो है. इसमें वह एक आयुर्वेदिक दवा को इम्यूनिटि बूस्टर के तौर पर प्रयोग करने की सलाह दे रहे हैं. हमें एक पाठक ने इसे भेजकर इसका पता लगाने को कहा.

Navgrah Immunity Booster

वीडियो में शख्स कह रहा है,
मेरा नाम अमित गर्ग है. 16 अगस्त को मैं एक शख्स से मिला, 17 अगस्त को जिसका कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया है. 18 अगस्त को मैंने भी अपना टेस्ट कराया. 20 अगस्त को मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. मुझे सर्दी और गले में खराश के कुछ लक्षण दिख रहे थे. इस दौरान मैंने इम्यूनिटि बूस्टर के तौर पर नवग्रह इम्यूनिटि बिल्डर की 20—20 बूंदें सुबह और शाम को लीं. इससे मुझे काफी फायदा हुआ. मैं इम्यूनिटि बूस्टर के तौर पर इसे रिकमेंड करता हूं. आयुर्वेदिक दवा होने के कारण इसके साइड इफेक्ट भी नहीं हैं. इस इम्यूनिटि बूस्टर से हम खुद को अंदरूनी तौर पर मजबूत कर सकते हैं.

वीडियो के साथ ही एक मैसेज भी है. इसमें दावा किया गया कि ‘नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स’ एक इफेक्टिव इम्युनिटी बिल्ड करने हेतु सप्लीमेंट है जो भारतीय आयुर्वेद पद्धति पर आधारित है. ‘नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स’ में आयुर्वेदिक जड़ी—बूटियों जैसे तुलसी का पत्ता, आंवला फल, गिलोय/अमृता तना, अदरक, अश्वगंधा जड़, पीपल का पत्ता, हल्दी, ब्लैक वुड एप्पल फल, दालचीनी के अर्क हैं. इनमें से कुछ औषधियां आयुष मंत्रालय द्वारा प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए, उनके दिशानिर्देशों में निर्दिष्ट हैं.

इस बारे में जब हमने अमित गर्ग से बात की तो उनका कहना था कि यह सही है. इसे उन्होंने इम्यूनिटि बूस्टर के तौर पर इस्तेमाल किया है, जिससे उन्हें काफी फायदा हुआ है. वह अन्य लोगों को भी इसके प्रयोग की सलाह देते हैं. इससे अंदरूनी तौर पर मजबूती आएगी, जिससे शख्स बीमारियों से लड़ सकता है.

गूगल पर सर्च करने पर हमें पता चला कि यह आॅनलाइन भी सेल हो रहा है. नवग्रह की वेबसाइट पर हमें इसके बारे में जानकारी मिली. इसमें दावा किया गया,
Strong Immunity Is Key For A Healthy And Happy Family.
NavGrah Immunity Builder Drops’ is the combination of Tulsi Leaf (Ocimum gratissimum, Ocumum sanctum, Ocimum basilicum), Amla (Emblica officinalis) Fruit, Giloy / Amrutha (Tinospora cordifolia) Stem, Ginger (Zingiber officinale) Rhizome, Ashwagandha (Withania somnifera) Root, Pipal (Ficus religiosa) Leaf, Turmeric (Curcuma longa) Rhizome, Black wood apple Fruit (Limonia acidissima) and Cinnnamon (Dalchini).
मतलब
मजबूत इम्यूनिटि स्वस्थ और खुशहाल परिवार की चाभी है.
इसमें तुलसी की पत्ती, आंवला फल, गिलोय/ अमृत तना, अदरक, पीपल और दालचीनी मिली हुई है.

इस दावे की पड़ताल के लिए हमने ‘नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स’ के एमडी गौरव मित्तल से बात की. उन्होंने कहा कि यह दवा आयुष मंत्रालय द्वारा रजिस्टर्ड है. यह FSSAI में पंजीकृत है. अभी प्रोडक्ट उसी में आ रहा था, लेकिन अब आयुष के अंतर्गत आएगा. इसमें 9 कंपोनेंट हैं, जो आयुर्वेद में भी इस्तेमाल होते हैं. यह एक फूड सप्लीमेंट है. सिर्फ इम्यूनिटी बूस्टर की तरह इसे प्रयोग किया जा सकता है. यह कोरोना की कोई दवा नहीं है.

इस बारे में और जानने के लिए हमने बिजनौर के जिला अस्पताल में कार्यरत आर्युवेद के डॉक्टर ईसम पाल से बात की. उन्होंने कहा कि उनको कंपनी के बारे में कुछ नहीं पता है लेकिन ये कंपोनेंट इम्यूनिटि बूस्टर में काम आते हैं.

आयुर्वेद के एक और जानकार अंतरंग आनन्द योगी से भी हमने इस बारे में जानकारी की तो उन्होंने कहा कि ये सभी आयुर्वेदिक औषिधि में इस्तेमाल होते हैं. तुलसी का पत्ता, आंवला फल, गिलोय /अमृता तना, अदरक, अश्वगंधा जड़, पीपल का पत्ता, हल्दी, ब्लैक वुड एप्पल फल और दालचीनी के अर्क इम्यूनिटि बूस्टर में मददगार हैं.

Postmortem रिपोर्ट: हमारी पड़ताल में ‘नवग्रह इम्यूनिटी बिल्डर ड्रॉप्स’ एक इम्यूनिटि बूस्टर है. इससे शरीर को अंदरूनी तौर पर मजबूती मिलती है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash