Home Political सच Fact Check: नवंबर 2018 में शिक्षकों ने किया था यह प्रदर्शन, हाईकोर्ट...

Fact Check: नवंबर 2018 में शिक्षकों ने किया था यह प्रदर्शन, हाईकोर्ट ने रद्द की थीं नियुक्तियां

इंडियन यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं कांग्रेस कमेटी के सदस्य दीपक भाटी चोटीवाला ने 21 सितंबर 2020 को 5 फोटो पोस्ट की हैं. ये प्रदर्शनकारियों पर पुलिस के लाठीचार्ज के बाद घायल युवाओं की फोटो हैं.

बेरोजगारी को लेकर विपक्ष जोरदार तरीके से केंद्र और राज्य सरकार पर हमलावर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस घोषित करने के साथ ही कांग्रेस और समाजवादी पार्टी समेत कई दलों ने बढ़ती बेरोजगारी को लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था. अब विपक्ष के कई नेता प्रर्दशनका​रियों पर पुलिस के लाठीचार्ज का दावा करते हुए कई फोटो वायरल कर रहे हैं.

इंडियन यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं कांग्रेस कमेटी के सदस्य दीपक भाटी चोटीवाला ने 21 सितंबर 2020 को 5 फोटो पोस्ट की. ये प्रदर्शनकारियों पर पुलिस के लाठीचार्ज के बाद घायल युवाओं की फोटो हैं. इसके साथ में Deepak Bhati Chotiwala @deepakbhatichotiwala ने लिखा,
तुमने वोट धर्म और मंदिर के लिए दिया था अब नौकरी मांगोगे तो डंडे ही मिलेंगे

#अफ़सोस

इस पोस्ट को 7700 से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं जबकि 16 हजार से ज्यादा लोगों ने इस पर प्रतिक्रिया दी है. 781 लोगों ने कमेंट किए हैं. सभी ने इसके लिए भाजपा सरकार को जमकर कोसा.

पोस्ट देखने के लिए यहां और आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

फोटो में कोई भी मास्क नहीं लगाए थे तो शक होने पर The News Postmortem ने इसकी पड़ताल शुरू की. रिवर्स इमेज से तलाशने पर हमें एक ब्लॉग का लिंक मिला. Sarkarinaukri पर छपे आर्टिकल के अनुसार, सरकारी नौकरियों में 5 साल की शर्तों का छात्र काफी विरोध कर रहे हैं. इस पर पुलिस ने बेरोजगार छात्रों पर लाठियां चलाई हैं. आर्टिकल में ये सभी फोटो इस्तेमाल की गई हैं.

teacher protest in lucknow on november 2018

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Altnews के मुताबिक, ये फोटो पहले भी कई बार इस्तेमाल की गई हैं. भाजपा ने फरवरी 2019 में भी इन फोटो का इस्तेमाल करके पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की सरकार पर हमला बोला था. उस समय दावा किया गया था कि कोलकाता में भाजपा की रैली में ममता बनर्जी ने हिंदुओं पर गुंडों से हमला कराया. साथ में 2019 में भाजपा को जिताने की अपील की गई.

teachers protest in lucknow on november 2018

3 नवंबर 2018 को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ये फोटो ट्वीट करते हुए लिखा था,
वादा था 2 करोड़ रोजगार का, मगर UP में 68,500 सहायक शिक्षकों की भर्ती सही से कराए जाने की मांग कर रहे युवाओं के साथ योगी सरकार का बर्ताव देखिए।
जो बच्चों का भविष्य बनाते हैं उनके भविष्य पर ऐसी मार?
कांग्रेस उत्तर प्रदेश के शिक्षक अभ्यर्थियों के साथ है। युवा इसका जल्द जवाब देंगे।

मतलब ये फोटो नवंबर 2018 में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज की हैं. गूगल पर ‘लखनऊ में नवंबर 2018 में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज’ कीवर्ड से सर्च करने पर हमें आज तक की खबर का लिंक मिला. 2 नवंबर 2018 को छपी खबर के मुताबिक, 12 हजार 460 ट्रेनी शिक्षकों की नियुक्ति इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रद्द कर दी थी. इसकी अधिसूचना अखिलेश यादव की सरकार में 2016 में जारी की गई थी. कोर्ट ने प्राइमरी स्‍कूलों में असिस्टेंट टीचर्स की 68 हजार 500 पदों पर भर्ती वाले आदेश की भी सीबीआई जांच को भी कहा था. इसके खिलाफ टीचरों ने लखनऊ में विधानसभा के सामने प्रदर्शन किया था. उनको काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया था. इसमें कई टीचर घायल हुए थे. इसमें हमें पोस्ट से संबंधित एक फोटो भी मिल गई.

Teacher protest in lucknow

हालांकि, हमें एक फोटो का कुछ भी पता नहीं चला लेकिन उसे देखकर लगता है कि वह लॉकडाउन के बाद की है क्योंकि उसमें एक प्रदर्शनकारी के गले में मास्क दिख रहा है.

Unemployment in india

Postmortem रिपोर्ट: कांग्रेस नेता दीपक भाटी चोटीवाला द्वारा पोस्ट की गई फोटो नवंबर 2018 की हैं. इनका हाल ही में बेरोजगारी को लेकर हुए प्रदर्शन से कोई लेना—देना नहीं है. साथ ही में नियुक्तियों को हाईकोर्ट ने रद्द किया था न कि सरकार ने.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash