Home Viral सच्चाई #FactCheck यह राफेल के जश्न का नहीं बल्कि इटली के रिपब्लिक डे...

#FactCheck यह राफेल के जश्न का नहीं बल्कि इटली के रिपब्लिक डे का वीडियो है

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे फ्रांस में राफेल का जश्न बताया जा रहा है जबकि वीडियो दो साल पुराना इटली के रिपब्लिक डे का है.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है,जिसमें एक भव्य बिल्डिंग के ऊपर जेट विमान तीन रंग का धुंआ छोड़ते हुए उड़ रहे हैं. वीडियो के साथ ये दावा किया जा रहा है कि ये फ्रांस का है और राफेल विमान सौंपने से पहले वहां इस तरह का जश्न हुआ. बड़ी संख्या में लोग इस दावे को सच मानते हुए शेयर कर रहे हैं.

Source: Facebook Post

The News Postmortem को मिले वीडियो की पड़ताल शुरू की गयी. 57 सेकंड का ये वीडियो फेसबुक और ट्विटर दोनों जगह फ्रांस का बताकार शेयर किया जा रहा है. चूंकि राफेल विमान 29 जुलाई को अम्बाला एयर बेस पहुंच गया था. पहले भी राफेल को लेकर कई फेक वीडियो वायरल किये गए थे. हमें शक यूं हुआ क्यूंकि कोरोना के चलते लॉक डाउन है और इस तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम कहीं नहीं हो रहे. इस वीडियो को हमने जब सर्च किया तो फेसबुक पर एक यूजर मिले कैलाश जाधव. जिन्होंने तीन अगस्त को इसे शेयर किया.अंग्रेजी में मैसेज भी लिखा… जिसमें उन्होंने खुद इसे इटली का होने का संशोधन भी किया. लेकिन फिर भी इसे शेयर किया.


I stand corrected…. It is Rome, Italy. Nevertheless it is an amazing sight. Thankyou Dr. Milind Nene for the correction 

Everyone talked about Rafael landing in India but see the farewell from France with Indian Tricolors.

Vande Bharti  …. May our Tricolour Keep Flying High… Jai Hind

#strongertogether #strongindia #vandebharti #rafaleinindia

I stand corrected…. It is Rome, Italy. Nevertheless it is an amazing sight. Thankyou Dr. Milind Nene for the correction 🙏Everyone talked about Rafael landing in India but see the farewell from France with Indian Tricolors.Vande Bharti 🙏…. May our Tricolour Keep Flying High… Jai Hind#strongertogether #strongindia #vandebharti #rafaleinindia

Posted by Kailash Jadhav on Sunday, August 2, 2020

इस वीडियो को हमने Fact check टूल InVID में सर्च किया तो ये हमें कई इमेज मिलीं.जिन्हें रिवर्स इमेज पर सर्च करने पर पता चला कि ये इटली में रोम की है. इस इमारत का नाम विटोरिया इमैनुएल है.

Source: Google Image

इसके बाद हमने इसे और सर्च किया तो पता चला कि ये 2018 में इटली के गणतन्त्र दिवस की वीडियो है. जिसे फ्रांस का बताकर शेयर किया जा रहा है. यहां लगा तीन रंग का झंडा भी इंडिया का नहीं बल्कि इटली है. इस बारे में एक वीडियो भी Euro News का मिला.जो 2 जून 2018 को अपलोड हुआ था. जिसका टाइटल था इटली सेलिब्रेट रिपब्लिक डे.

Postmortem रिपोर्ट:- वायरल वीडियो जो फ्रांस का बताया जा रहा था वो इटली के गणतंत्र दिवस का है.दो साल पुराना 2018 का. हमारी पड़ताल में ये वीडियो पूरी तरह फेक निकला.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash