Home Viral सच्चाई Fact Check: तमिलनाडु में PWD ने अवैध निर्माण बताकर गिराया विशाल शिवलिंग

Fact Check: तमिलनाडु में PWD ने अवैध निर्माण बताकर गिराया विशाल शिवलिंग

एडवोकेट आशुतोष दुबे @AdvAshutoshDube ने हिन्दू धर्म के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने पर तमिलनाडु PWD, पुलिस, कलेक्टर और सीएम को कानूनी नोटिस भेजा.

क्या तमिलनाडु के तंजावुर में मंदिर को अवैध निर्माण बताकर गिरा दिया गया? इस दौरान क्या विशाल शिवलिंग को भी जेसीबी की मदद से नीचे गिराया गया है? एक वीडियो के साथ इस तरह के मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हुए हैं. The News Postmortem के सामने भी ऐसा ​ट्वीट आया तो हमने उसकी पड़ताल शुरू की.

Ashutosh Singh विक्की @Real18ashutosh ने 23 सितंबर को एक वीडियो ट्वीट किया. इसमें एक विशाल शिवलिंग नीचे गिरते हुए दिख रहा है. इसके साथ में लिखा गया,
तंजावुर, तमिलनाडु में मंदिर को अवैध कब्जा बता कर गिर दिया गया। क्या हिन्दुओं की सहिष्णुता की परीक्षा ली जा रही है? मुसलमानो की अवैध मस्जिदों को हाथ भी नहीं लगाने वाले संविधान का जोर क्या सिर्फ हिन्दुओं तक सीमित है?
इसको लेकर लोगों ने कमेंट कर इस घटना के खिलाफ नाराजगी जताई.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Papaya @thesanatanist ने भी 22 सितंबर को इस वीडियो को ट्वीट किया और लिखा,
Thanjavur, Tamil Nadu : Shiva lingam demolished. No information about why. This is unacceptable under any circumstances. This is highly disrespectful. If the cause was legal, why wasn’t anyone informed about it, why wasn’t it respectfully shifted. #TamilNadu
मतलब तमिलनाडु के तंजावुर में बिना किसी जानकारी के शिवलिंग को तोड़ दिया गया. यह किसी भी हाल में स्वीकार नहीं होगा. यह बहुत अपमान जनक है. अगर इसके पीेछे कोई कानूनी वजह है तो इस बारे में कोई सूचना क्यों नहीं दी गई. इसे सम्मानपूर्वक कहीं और क्यों नहीं शिफ्ट कर दिया गया.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

वीडियो को InVID टूल से सर्च करने पर हमें कोई खास रिजल्ट नहीं मिला. इसके बाद हमने गूगल पर thanjavur temple demolished कीवर्ड से सर्च किया तो कुछ खबरों के लिंक मिले. Maalaimalar में इस बारे में 20 सितंबर 2020 को खबर छपी है. तमिल को हिंदी में ट्रांसलेट करने पर हमें इसकी जानकारी मिली. खबर के मुताबिक, यह कार्रवाई कोर्ट के आदेश पर पीडब्ल्यूडी ने अवैध निर्माण को लेकर की है. मंदिर का नाम आदिमरिम्मन है. मंदिर में एक विशाल शिवलिंग है. इसके पास से पहले 70 घर हटाए गए थे. विभाग के मुताबिक, मंदिर और आसपास के घर झील पर कब्जा करके बनाए गए थे. इस मामले में मंदिर प्रशासन ने 2018 में मदुरै हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी. इसमें मंदिर को गिराने से रोकने की गुहार लगाई गई थी. इस पर बताया गया था कि मंदिर, राममूर्ति स्वामी समाधि और घर का निर्माण 14,200 वर्ग फीट के क्षेत्र में किया गया है. यह समुद्र तट पर स्थित है. अगस्त में कोर्ट ने 10 हफ्ते में अतिक्रमण हटाने को कहा था. इसके बाद 19 सितंबर को विभाग ने मंदिर की दीवार और मंदिर के प्रशासक के घर को गिरा दिया था. इसकी जानकारी मिलने पर हिंदू संगठनों ने वहां प्रदर्शन भी किया था.

इस बारे में हमें ट्विटर पर ADV. ASHUTOSH J DUBEY #CBIForPalgharSadhus @AdvAshutoshDube का भी ट्वीट मिला. उन्होंने लिखा है,
@AdvAshutoshDube & @rathi_yukti have issued the legal notice against the TN PWD dept., Police Authorities, Collector & CM For hurting the religious sentiments of Hindus at large because PWD of TN destroyed Shiv Lingam very barbarically using JCB disrespectfully and incorrectly.
मतलब आशुतोष दुबे और राखी युक्ति ने हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने पर तमिलनाडु पीबीडल्यू, पुलिस, कलेक्टर और सीएम को कानूनी नोटिस भेजा है. पीडब्ल्यूडी ने बहुत ही गलत और अपमानजनक तरीके से शिवलिंग को गिराया है.

Postmortem रिपोर्ट: तमिलनाडु के तंजावुर में सरकारी विभाग ने विशाल शिवलिंग को अवैध निर्माण बताकर गिराया है. इसके लिए विभाग की तरफ से पहले ही जानकारी दे दी गई थी. ऐसा कोर्ट के आदेश पर किया गया था.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash