Home Political सच Fact Check: प्रीति गांधी ने फिलीपींस की सबसे प्रदूषित नदी की फोटो...

Fact Check: प्रीति गांधी ने फिलीपींस की सबसे प्रदूषित नदी की फोटो पोस्ट कर महाराष्ट्र की बताया

मीठी नदी भी महाराष्ट्र की सबसे प्रदूषित नदी है. इस पर 13 साल में करीब 1000 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं लेकिन नदी की हालत नहीं सुधरी.

क्या महाराष्ट्र की मीठी नदी इतनी प्रदूषित है कि वह प्लास्टिक की बोतलें या वेस्ट से ही पटी पड़ी है? क्या अब तक करीब 1000 करोड़ रुपये उसकी दशा सुधारने के लिए खर्च किए जा चुके हैं लेकिन आज भी नदी गंदगी से अटी पड़ी है? भारतीय जनता पार्टी यानी भाजपा की कार्यकर्ता और ब्लू टिक वाली नेता प्रीति गांधी ने दो फोटो ट्वीट कर महाराष्ट्र की ​शिवसेना सरकार पर निशाना साधा.

प्रीति गांधी ने ट्वीट कर कहा कि गुजरात के अहमदाबाद में साबरमती रिवरफ्रंट का नजारा, जिस पर गुजरात सरकार ने 1400 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. वहीं, महाराष्ट्र में मुंबई की मीठी नदी की तस्वीर, जिस पर बृहनमुंबई मुंसिपिल कारपोरेशन (BMC) और मुंबई मेट्रोपोलिटन रीजन डेवलपमेंट अथॉरिटी (MMRDA) ने 1000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. एक फोटो में साफ सुथरी नदी का किनारे बना पार्क दिख रहा है, जबकि दूसरी नदी कम और वेस्ट का नाला ज्यादा दिख रही है.

priti gandhi bjp tweet

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

The News Postmortem ने इसकी पड़ताल के लिए सबसे पहले पहली फोटो को रिवर्स इमेज के लिए गूगल पर तलाशा तो पता चला कि यह साबरमती रिवरफ्रंट पार्क जनता के लिए खोल दिया गया है. sabarmatiriverfront के अनुसार, नदी के किनारे इस पहले शानदार पार्क का काम पूरा हो चुका है. इसका उद्घाटन 16 अक्टूबर 2013 को किया गया था. तब से इसे जनता के लिए खोला जा चुका है.

दूसरी तस्वीर को तलाशने पर पता चला कि यह प्लास्टिक वेस्ट से पटी हुई एक नदी है. Shutter Stock के अनुसार, यह फिलीपींस के मनीला की नदी है. इस फोटो को 6 जनवरी 2008 को लिया गया था. फिलीपींस में गरीबी और कूड़ा निस्तारण बड़े मुद्दे हैं.

Phillipines Manila Most Polluted River
Source: Sutter Stock

पिछल साल जनवरी में lonelyplanet में छपे एक आर्टिकल के अनुसार, यूनिवर्सिटी आॅफ जार्जिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फिलीपींस दुनिया का तीसरा सबसे प्लास्टिक प्रदूषण वाला देश है. इस लिस्ट में चीन प्रथम और इंडोनेशिया दूसरे नंबर पर है. यह देश हर साल करीब 1.88 मिलियन टंस प्लास्टिक का उत्पादन करता है. इसकी वजह गरीबी बताई जाती है. करीब 20.8 फीसदी जनता राष्ट्रीय गरीबी रेखा के नीचे रहती है. वहां पांच में से एक अ​त्यधि​क गरीब है, जिसको एक दिन में केवल 2 डॉलर से भी कम मिलते हैं. कई लोगों को रोजमर्रा का सामान बहुत कम मात्रा में खरीदना पड़ता है, जो सिंगल यूज प्लास्टिक में होता है.

मतलब प्रीति गांधी ने जो प्रदूषित नदी की फोटो पोस्ट की है वह फिलीपींस की है. अब बात करते हैं महाराष्ट्र की मीठी नदी की. मीठी नदी का ही बस मीठा है लेकिन यह राज्य की सबसे प्रदूषित नदी है. 18 फरवरी 2019 को The Hindu में छपे आर्टिकल के अनुसार, 2004 को नदी की हालत पर एक रिपोर्ट महाराष्ट्र पोल्यूशन कंट्रोल बोर्ड को दी गई थी. इसके मुताबिक, यह नदी घनी जनसंख्या वाले क्षेत्रों से गुजरती है. इसमें कई सारे नाले और गंदगी आकर गिरती है, जिस कारण यह नदी महाराष्ट्र का सबसे गंदा नाला बन गई है. 26 जुलाई 2005 को एक दिन में 944 मिमी बारिया हुई, जिसमें 1000 लोगों की जान चली गई थी. बाढ़ के पीछे मीठी नदी के दोनों तरफ हुए अतिक्रमण को काफी जिम्मेदार माना गया था. नदी की अनदेखी की वजह से इसकी चौड़ाई काफी कम हो गई. इस वजह से बाढ़ प्रलयकारी साबित हुई. इसके बाद मीठी रिवर डेवलपमेंट और प्रोटेक्शन अथॉरिटी (MRDPA) का गठन हुआ. पिछले 13 साल में इस नदी की दशा सुधारने के लिए 1000 करोड़ खर्च किए जा चुके हैं, लेकिन हालत में कोई सुधार नहीं आया.

maharashtra mithi river mumbai

Curlytales में 28 नवंबर 2020 को छपी न्यूज के अनुसार, बीएमसी ने इसकी सफाई और सौंदर्याकरण के लिए प्लान बनाया है. प्रोजेक्ट के तहत इसको पर्यटन के लिए सुधारा जाएगा. 569 करोड़ रुपये में बीएमसी सबसे पहले इसकी सफाई करके इसे पुर्नजीवन देगी.

Postmortem रिपोर्ट: प्रीति गांधी ने जो दो फोटो पोस्ट की हैं, उनमें एक फिलीपींस में मनीला की नदी की है, जो प्लास्टिक वेस्ट से अटी पड़ी है. हालांकि, मीठी नदी भी महाराष्ट्र की सबसे प्रदूषित नदी है. इस पर 13 साल में करीब 1000 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं लेकिन नदी की हालत नहीं सुधरी.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash