Home Viral सच्चाई Fact Check: ऋषिकेश शहर उर्फ देवभूमि में नहीं है कोई भी मस्जिद

Fact Check: ऋषिकेश शहर उर्फ देवभूमि में नहीं है कोई भी मस्जिद

सोशल मीडिया पोस्ट में दावा किया गया है कि ऋषिकेश भारत का एकमात्र ऐसा शहर है, जिसमे एक भी मस्जिद नहीं है. ऋषिकेश पूरी तरह से पवित्र व पूज्यनीय स्थल है.

हमारे देश में शायद ही कोई ऐसा शहर होगा, जहां मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारा नहीं हों. कम से कम हर शहर में मंदिर और मस्जिद तो जरूर होते हैं लेकिन अगर कोई ऐसी पोस्ट मिल जाए, जिसमें दावा किया जाए कि देश के फलाने शहर में कोई मस्जिद नहीं है तो यकीन करना मुश्किल होगा. The News Postmortem को भी ऐसी ही पोस्ट मिली.

वरिष्ठ पत्रकार एवं HNN24x7 के कंसल्टिंग एडिटर सत्यजीत पंवार ने अपने ट्विटर हैंडल @SatyajeetIN पर 11 अक्टूबर को ऋषिकेश की चार फोटो पोस्ट की और लिखा,

#ऋषिकेश भारत का एकमात्र ऐसा शहर है, जिसमे एक भी #मस्जिद नहीं है. ऋषिकेश पूरी तरह से पवित्र व पूजनीय स्थल है भारत का, जिसको गढ़वाल हिमालय का प्रवेश्द्वार भी कहा जाता है.

No Mosque in Rishikesh City

यह पोस्ट सामने आने के बाद हमने अपनी पड़ताल शुरू की. गूगल पर हमने ‘ऋषिकेश में मस्जिद’ कीवर्ड से सर्च किया तो कुछ खास परिणाम नहीं निकला. One Five Nine पर हमें कुछ रिजल्ट दिखे. उनमें ​आईडीपीएल कॉलोनी में एक मस्जिद का पता दिया गया.
IDPL mosque for jumma
mosque; IDPL Colony; Rishikesh; Uttarakhand 249203; India phone:
इसके अलावा कुनाऊं में एक मस्जिद दिखाई गई. इसके अलावा सभी शहर से बाहर दिखी.
Kunnau Masjid(mosque)
Veerbhadra; Uttarakhand 249304; India phone:
इनमें से आईडीपीएल कॉलोनी शहर में है जबकि कुनाउ गांव शहर से बाहर है.

गूगल पर ही हमें News 18 की खबर का लिंक मिला. इसका टाइटल है, ऋषिकेश से 5 किलोमीटर दूर गांव को मस्जिद बता रहा है गूगल मैप, लोगों ने की प्रशासन से शिकायत. इसके अनुसार, गूल मैप में कुनाऊं गांव में एक मस्जिद दर्शा रहा है, जबकि यहां ऐसा कुछ भी नहीं है. वैसे भी यह क्षेत्र यमकेश्वर विधानसभा में है मतलब ऋषिकेश से बाहर. खास बात यह है कि यमकेश्वर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का गृहक्षेत्र है.

Mosque in rishikesh
Source: News 18

हमने गूगल अर्थ की सहायता से भी शहर में मस्जिदों को तलाश किया तो जुमा मस्जिद एंड मदरसा, तेलीवाला जामा मस्जिद, मस्जिद नियमवाला तेलीवाला में, जियारत शरीफ एंड जामिया मस्जिद गुज्जर बस्ती पोरु के बारे में पता चला.

Rishikesh Google Earth Map

अब इसकी और जानकारी के लिए हमने वरिष्ठ पत्रकार विनय पांडे से बात की. उन्होंने कहा कि यह सही है कि ऋषिकेश शहर या विधानसभा में कोई मस्जिद नहीं है. उनका कहना है कि तेलीवाला जगह ऋषिकेश नहीं बल्कि डोईवाला देहरादून में है. खंडरायवाला में भी मस्जिद नहीं है. हां, वहां रजिस्टर्ड मदरसा जरूर है. गूगल अर्थ पर इसे जुमा मस्जिद एंड मदरसा दिखाया हुआ है. आईडीपीएल में मस्जिद के बारे में लिखा होने पर उन्होंने कहा कि वहां पर एक कम्युनिटि सेंटर है, जहां पर केवह जुमे की नमाज पढ़ी जाती है. वहां भी कोई मस्जिद नहीं है. ऋषिकेश विधानसभा में कोई भी मस्जिद नहीं है. अब बात की जियारत शरीफ एंड जामिया मस्जिद गुज्जर बस्ती पोरु की तो उन्होंने कहा कि वहां पर कुछ लोगों ने मस्जिद बनाने की कोशिश की थी लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. वहां पर कोई मस्जिद नहीं है.

Postmortem रिपोर्ट: ऋषिकेश विधानसभा या शहर में कोई मस्जिद नहीं है. यह बात सही है. वहां एक कम्युनिटि सेंटर है, जहां पर जुमे की नमाज पढ़ी जाती है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : सच

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash