Home Viral सच्चाई Fact Check: जानिए, कौन हैं ये मॉडल और किसने किया है फोटोशूट

Fact Check: जानिए, कौन हैं ये मॉडल और किसने किया है फोटोशूट

ट्विटर पर दो तस्वीरों को लेकर काफी लोग आपत्ति जता रहे हैं. इन दोनों ही तस्वीरों को सनातन धर्म का अपमान बताया जा रहा है. ये पहले भी वायरल हो चुकी हैं और चर्चा का विषय बनी हुई हैं.

कुछ तस्वीरें इतनी विवादास्पद होती हैं कि उनको लेकर सोशल मीडिया हमेशा गरमाया रहता है. ट्विटर पर दो तस्वीरों को लेकर काफी लोग आपत्ति जता रहे हैं. इन दोनों ही तस्वीरों को सनातन धर्म के अपमान बताया जा रहा है. ये पहले भी वायरल हो चुकी हैं और चर्चा का विषय बनी हुई हैं. इनमें एक फोटो शादी के फंक्शन के समय दुल्हन की है जबकि दूसरी साड़ी पहने एक दुल्हन की है. आपत्तिजनक यह है कि साड़ी पहने वाली दुल्हन के एक हाथ में कैंची है और साड़ी घुटनों के नीचे कटी हुई है.

लेखिका @Aapki_Lekhika ने 16 नवंबर को दोनों फोटो को ट्वीट किया और लिखा,
सनातन_धर्म…!!
जिस घर में विष्णु नारायण को छोड़ साईं पूजे जाते हो वहां की संस्कृति तो विलुप्त होगी ही…. और ये तस्वीरें भी कहीं ना कहीं उसी का नतीजा है।

#सनातनधर्मसर्वश्रेष्ठ_है

Yaami Controversial Photoshoot

The News Postmortem के सामने भी यह पोस्ट आई तो हमने इन फोटो की पड़ताल शुरू की. गूगल पर रिवर्स इमेज से पता चला कि यह फोटो सितंबर में भी वायरल हो चुकी है. Rishi Bagree @rishibagree ने 24 सितंबर 2020 को दो फोटो ट्वीट की थी. इनमें एक साड़ी पहने हुई मॉडल की है जबकि दूसरी नन की ड्रेस में मॉडल की है. साथ में लिखा है,
Claustophobic Nun Dress is empowering but a beautiful Saree is regressive
This is how they run Anti Hindu propaganda
मतलब नन की ड्रेस सुंदर है जबकि सुंदर साड़ी ठीक नहीं लग रही है. इस तरह से ये हिंदू विरोधी प्रचार करते हैं.

Controversial Photos of Indian Bride

ट्वीट के कमेंट में Krishna Kumar Chauhan @DrKKChauhan ने लिखा,

#क्रिश्चियन लड़की है ये….इसका नाम यामी है….हिन्दू वेषभूषा का उपहास उड़ाती है और अपने धर्म की वेश-भूषा को गर्व से प्रदर्शित करती है. इन सबका उद्देश्य भारतीय सभ्यता संस्कृति पर चोट करना है.

Indian Bride Photo

गूगल पर ही हमें टाइम्स ऑफ इंडिया का लिंक मिला. इसके अनुसार, 8 मार्च को इंटरनेशनल वूमेंस डे वाली दिन फोटोग्राफर यामी ने कुछ फोटो पोस्ट की थी. यामी ने अभिनेत्री पवित्रा लक्ष्मी की दुल्हन की साड़ी में फोटोग्राफ ली थीं. इनमें मॉडल ने घुटनों से नीचे की साड़ी कैंची से काट दी थी. इसको लेकर यामी को कई माह तक सोशल मीडिया पोस्ट पर गंदे कमेंट्स मिलते रहे हैं. यामी ने इसे अपने इंस्टाग्राम पर भी पोस्ट करते हुए लिखा है, Break the stereotype मतलब रूढ़ी वादी धारणा को तोड़ो. यामी कहना है कि उन्होंने अमोल जाधव की फोटो सीरीज से प्रेरित होकर यह फोटोशूट किया था. इसकी वजह यह है कि हममें से कई लोग साड़ी पहनने में कंफर्ट महसूस नहीं करते हैं. वह महसूस करती हैं कि सबको उसकी इच्छा के अनुसार पहनने की स्वतंत्रता है.

Yaami Bride Photoshoot

Newindianexpress के मुताबिक, यामी कोचि की रहने वाली हैं. यामी इससे पहले एयरलाइन के क्षेत्र में नौकरी करती थीं. उन्होंने ट्रैवल और फोटोग्राफी के लिए वह नौकरी छोड़ दी थी. वह असिस्टेंट इमिग्रेशन आॅफिसर रह चुकी हैं. महिलाओं की बोल्ड फोटोग्राफ को लेकर वह कई बार चर्चा में रह चुकी हैं.

Source: Times Of India

अब बात करें मॉडल पवित्रा लक्ष्मी की तो वह तमिल फिल्म इंस्डस्ट्री का जाना माना नाम है. वह तमिलनाडु के कोयंबटूर की रहने वाली हैं. उन्होंने 2010 में टीवी रियलिटी शो से डांसर के तौर पर अपना करियर शुरू किया था. 2015 में उन्होंने मिस मद्रास और 2017 में क्वीन ऑफ मद्रास की खिताब जीता था.

Pavithra Laxmi Image

अब दूसरी फोटो पर आते हैं. इसको रिवर्स इमेज से सर्च करने पर हमें shutterscape_ इंस्टाग्राम अकाउंट पर मिली. इसके फोटोग्राफर का नाम रजत राय है. 24 अक्टूबर को यह फोटो पोस्ट की गई है. इसकी मेकअप आर्टिस्ट रवीना जयसवाल हैं, जबकि मॉडल का नाम Pious Das है. वह बंगाली मॉडल हैं.

Postmortem रिपोर्ट: फोटोग्राफर यामी के क्रिश्चियन होने का पता नहीं चला और वह कई बार महिलाओं की बोल्ड फोटोग्राफ लेने को लेकर चर्चा में रह चुकी हैं.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash