Home Political सच Fact Check: दिल्ली के भाजपा नेताओं ने ट्वीट की फेक फोटो, जानिए...

Fact Check: दिल्ली के भाजपा नेताओं ने ट्वीट की फेक फोटो, जानिए क्या है असलियत

दिल्ली भाजपा की प्रवक्ता नीतू डबास ने भी शेयर किया है. इसमें एक खंभे पर लगे एक बोर्ड की तस्वीर है, जिस पर दिल्ली के मुतख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो है और लिखा है, बधाई, सागरपुर सब्जीमंडी के पास स्पीड ब्रेकर का निर्माण किया गया.

अगले साल उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और गुजरात में चुनाव होने हैं. इसको लेकर सभी दल तैयारी में जुट गए हैं. दिल्ली में भी भारतीय जनता पार्टी यानी भाजपा और आम आदमी पार्टी यानी ‘आप’ में काफी खींचतान होती रहती है. दोनों ही दलों के मीडियासेल 24 घंटे एक—दूसरे को कठघरे में खींचने को बिल्कुल तैयार रहते हैं.

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रही है, जिसे दिल्ली भाजपा की प्रवक्ता नीतू डबास ने भी शेयर किया है. इसमें एक खंभे पर लगे एक बोर्ड की तस्वीर है, जिस पर दिल्ली के मुतख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फोटो है और लिखा है,
बधाई, सागरपुर सब्जीमंडी के पास स्पीड ब्रेकर का निर्माण किया गया. नीचे दिल्ली सरकार भी लिखा हुआ है.
इसके जरिए केजरीवाल सरकार पर तंज कसा गया है, स्पीड ब्रेकर बनने की बधाइयां ले लिया या आप में से कोई बाकी है?

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

रेनुका जैन ने भी इस फोटो को पोस्ट किया है और लिखा है कि वाकई में अरविंद केजरीवाल देश के विकास में स्पीड ब्रेकर हैं.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Dr. APR ने भी इस फोटो को ट्वीट करते हुए लिखा, इस महान कार्य के लिए दिल्लीवालों को बधाई नहीं बल्कि दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal जी को बधाई मिलनी चाहिए.

delhi arvind kejriwal advertisement

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता वीरेंद्र बब्बर ने भी अपने वेरीफाइड पेज पर इस फोटो को पोस्ट करते हुए लिखा है,
अविश्वनीय कार्य..
Arvind Kejriwal द्वारा दिल्ली में विकास कार्यों की भरमार
हर समय केवल और केवल झूठा प्रचार????

delhi arvind kejriwal advertisement

The News Postmortem ने इस पोस्ट की पड़ताल के लिए फोटो को रिवर्स इमेज के जरिए गूगल पर तलाशा. छानबीन में हमें सुप्रीम कोर्ट के वीकल और जननायक जनता पार्टी के प्रवक्ता प्रतीक सोम को ट्वीट मिला. इस फोटो को उन्होंने पिछले साल मार्च में पोस्ट किया था. वायरल और इस फोटो में अरविंद केजरीवाल की तस्वीर तो है लेकिन टेक्स्ट अलग है. इस पर लिखा है, जखीरा गोलचक्कर से मुंडका रोहतक रोड का मरम्मत कार्य शुरू. इसके साथ में उन्होंने लिखा है, हर 15—20 मीटर की दूरी पर अरविंद केजरीवाल के बैनर्स लगे हैं. मरम्मत कार्य के लिए बधाई. क्या यह सीएम हैं या कुछ और? केवल विज्ञापन कोई कार्य नहीं.

delhi arvind kejriwal advertisement

ब्लू टिक वाले रोहित प्रसाद निगम ने भी इन दोनों को ही फोटो को ट्वीट करते हुए लिखा कि फॉन्ट तो सही कर लेते भाजपाइयों.

अब बात करते हैं जखीरा गोलचक्कर से मुंडका रोहतक रोड के मरम्मत कार्य की. 6 नवंबर 2020 की जी न्यूज में छपी खबर के मुताबिक, 2011 में यह सड़क बनी थी. 9 साल बाद फिर से इसका काम शुरू किया जाएगा. उस समय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि प्रत्येक 5 साल में सड़क दोबारा बना दी जाती है, लेकिन यह कई खस्ताहाल है. दिल्ली सरकार 6 माह से भी कम समय में इस काम को पूरा कर देगी. इसकी लंबाई 13.33 किलोमीटर और चौड़ाई 200 फीट है. यह रोड एनएच—9 का हिस्सा है.

Postmortem रिपोर्ट: भाजपा नेताओं द्वारा शेयर की जा रही फोटो एडिटेड है. बोर्ड में स्पीड ब्रेकर नहीं बल्कि जखीरा गोलचक्कर से मुंडका रोहतक रोड के मरम्मत कार्य की बात लिखी है. इसकी मरम्मत की काफी समय से मांग की जा रही थी.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : झूठ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash