Home Viral सच्चाई Fact Check: जानिए, Mirzapur-2 के गुड्डू भैया उर्फ अली फजल के इस...

Fact Check: जानिए, Mirzapur-2 के गुड्डू भैया उर्फ अली फजल के इस ट्वीट का सच

मिर्जापुर सीजन—2 का ट्रेलर लॉन्च होने के साथ ही ट्विटर पर Boycott Mirzapur-2 ट्रेंड होने लगा. इसमें गुड्डू भैया उर्फ अली फजल के पुराने ट्वीट का स्क्रीनशॉट जमकर शेयर किया गया.

मिर्जापुर सीजन—2 का ट्रेलर लॉन्च होने के साथ ही ट्विटर पर छा गया. यूट्यूब पर भी इसे लोगों ने हाथों—हाथ लिया. इस बीच ट्विटर पर हजारों यूजर्स ने मिर्जापुर—2 के बॉयकॉट की मुहिम भी चला दी. इसका आधार बनाया गया मिर्जापुर के स्टार अली फजल के पुराने ट्वीट को. उनके ट्वीट के स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लोगों ने उन पर जमकर निशाना साधा.

Arzi @singhr07 ने 7 अक्टूबर को एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट का शेयर करते हुए ट्वीट किया,
Is it a real tweet? Omg did he celebrate officer brutal murder?
मतलब क्या यह असली ट्वीट है. क्या इसने अधिकारी के कत्ल का जयन मनाया था.
स्क्रीनशॉट में अली फजल का ट्वीट है, जिसमें लिखा है,
प्रोटेसट्स: शुरू मजबूरी में किए थे, अब मजा आ रहा है
इसमें नाले में पड़े एक शव की फोटो भी है, जो कि दिल्ली दंगों में मारे गए आईबी कर्मी अंकित शर्मा के शव है. सीएए—एनआरसी के विरोध में दिल्ली में हुए दंगों में अंकित शर्मा का बेरहमी से कत्ल कर दिया गया था. इस मामले में आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन को मुख्य आरोपी बनाकर गिरफ्तर किया गया था.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Rakesh Kumar @RakeshK17274681 ने भी 7 अक्टूबर को यह फोटो ट्वीट करते हुए लिखा,

#BoycottMirzapur2

@alifazal9
Lets show them our power.

Mirzapur-2 Actor Ali Fazal Tweet

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Srikanth @srikanthbjp_ ने भी इस फोटो को ट्वीट करते हुए मिर्जापुर के दूसरे सीजन के बहिष्कार की अपील की. उन्होंने खिा,
Boycott Hinduphobic #AliFazal’s Mirzapur 2

#BoycottMirzapur2

Pls pass on it …. H!t them where it hurts

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

A.B @AB71028457 ने भी 6 अक्टूबर को फोटो पोस्ट करते हुए सवाल किया,
OMG, IS THIS ALI FAZAL TWEET? #BoycottMirzapur2
इसी तरह से कई और यूजर्स ने ट्वीट करते हुए मिर्जापुर के बहिष्कार की अपील की.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

The News Postmortem के सामने जब यह पोस्ट आई तो हमने इसकी पड़ताल शुरू की. यह पोस्ट अगस्त में भी काफी वायरल हुई थी जब मिर्जापुर के दूसरे सीजन की रिलीज डेट की घोषणा की गई थी. हालांकि, उस समय के ट्वीट के स्क्रीनशॉट में कुछ अंतर था. अगस्त में जो स्क्रीनशॉट शेयर किया गया था, उसमें प्रोटेस्ट वाली बात थी लेकिन शव की फोटो नहीं थी.

Mirzapur-2 Ali Fazal Controversaial Tweet

Aaj Tak के मुताबिक, मिर्जापुर के गुड्डू भैया उर्फ अली फजल के पुराने ट्वीट का स्क्रीनशॉट लेकर लोग शेयर कर रहे हैं और मिर्जापुर—2 के बॉयकॉट की बात कर रहे हैं. पिछले साल 20 दिसंबर 2019 को अली फजल ने सीएए प्रोटेस्ट के समय अपनी सीरीज का एक डॉयलाग ट्वीट किया था. इसमें लिखा था, शुरू मजबूरी में किए थे, अब मजा आ रहा है. इतना ही नहीं उन्होंने एक और ट्वीट किया था. इसमें लिखा था, याद रखें- अगला कदम ये साबित करना नहीं क‍ि ये एक शांतिपूर्ण आंदोलन था बल्क‍ि इसकी जांच करना और असली घुसपैठ‍ियों से पर्दा उठाना जो बाहर से इस आंदोलन में घुसे और हिंसा की. बाद में इनको डिलीट कर दिया गया था.

The Print के अनुसार, पुलिस एफआईआर के मुताबिक, 22 फरवरी की रात को जाफराबाद की गलियों से निकले लोग कैंडल लेकर मेट्रो स्टेशन के नीचे खड़े हो गए थे. उन पर बिना परमीशन के सीएए और एनआरसी के खिलाफ नारे लगाने का भी आरोप है. 23 फरवरी को दिल्ली दंगे के आग में झुलस गई थी. एक और खबर के मुताबिक, 26 फरवरी 2020 को चांद बाग में एक नाले में आईबी कर्मी अंकित शर्मा का शव मिला था.

Postmortem रिपोर्ट: इससे यह पता चलता है कि एक्टर अली फजल ने सीएए के विरोध जब यह ट्वीट किया था तब दिल्ली दंगे की आग में नहीं झुलसी नहीं थी. अली फजल के ट्वीट का समय 20 दिसंबर 2019 का है, जबकि दिल्ली में दंगे 23 फरवरी को हुए. हालांकि, कई बॉलीवुड एक्टर व एक्ट्रेस की तरह अली फजल भी सीएए के विरोध में प्रदर्शन करने वालों के साथ खड़े दिखाई दिए थे. वायरल किया जा रहा ट्वीट का स्क्रीनशॉट फोटोशॉप किया हुआ है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash