Home Political सच Fact Check: वायरल वीडियो में केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन नहीं हैं, जानिए...

Fact Check: वायरल वीडियो में केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन नहीं हैं, जानिए कौन है यह भाजपा नेता

शिल्पा राजपूत~भारतीय @Shilpa_Bhartiy ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, क्या यह सच है कि बीजेपी सांसद हर्षवर्धन की जनता ने सरेआम जमकर कुटाई कर दी? कोई तो रोक लो..!!

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें कई लोग एक शख्स को पीट रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि पिटने वाले शख्स केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन हैं. वीडियो के साथ में मैसेज लिखा है कि क्या यह सच है कि बीजेपी सांसद हर्षवर्धन की जनता ने सरेआम जमकर कुटाई कर दी?

शिल्पा राजपूत~भारतीय @Shilpa_Bhartiy ने 28 सितंबर को 1 मिनट 23 सेकंड का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा,
क्या यह सच है कि बीजेपी सांसद हर्षवर्धन की जनता ने सरेआम जमकर कुटाई कर दी?
कोई तो रोक लो..!!
ट्वीट को अब तक 235 लोग रिट्वीट कर चुके हैं. इसमें कई लोगों ने कमेंट भी किए.

The News Postmortem के सामने जब यह पोस्ट आई तो हमने इसकी पड़ताल शुरू की. ट्वीट के कमेंट चेक करने पर हमें jags @lovely_jagriti का कमेंट मिला. इसमें लिखा है,
जिस आदमी को पीटा जा रहा है वो पश्चिम बंगाल में आसनसोल से एक भाजपा विधायक था.
यह गलत है, ओल्ड है. किसी की भी सत्यता अगर न हो तो नाम नहीं डालना चाहिए. ऐसा मेरा मत है और कोई अधिकार भी नहीं कि किसी को सरेआम पीटा जाये. अपराधियों को पीटो, घटिया पत्रकारों को कूटना चाहिए, जो सच नहीं दिखाते.

Dr Harshwardhan video viral

पोस्ट की पड़ताल के लिए हमने InVID टूल से इसको तलाशा लेकिन कोई रिजल्ट नहीं मिला. इसके बाद हमने गूगल पर ‘पश्चिम बंगाल में आसनसोल से भाजपा विधायक को पीटा, वीडियो वायरल’ सर्च किया तो 29 जुलाई 2020 को Alt News में पब्लिश खबर का लिंक मिला. खबर के मुताबिक, दो क्लिप्स को मर्ज करके एक वीडियो शेयर किया जा रहा है, जिसमें दावा किया गया कि पटना में भाजपा विधायक की पिटाई की गई है. एक वीडियो क्लिप अभी वायरल हो रहे वीडियो की थी. मतलब इसे कुछ और दावे के साथ भी शेयर किया गया है.

इसी कीवर्ड से इमेज सर्च करने पर हमें Janta Ka Reporter पर 27 नवंबर 2016 की खबर का लिंक मिला. इसके अनुसार, पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने यह वीडियो ट्वीट किया था. Manish Tewari @ManishTewari ने 27 नवंबर 2016 को 1 मिनट 22 सेकंड का यह वीडियो ट्वीट किया. उन्होंने दावा किया था,
Who is this gentleman at the receiving end of the people’s ire on demonetisation? Is he by any chance a Minister of the Union of India?Guess
मतलब नोटबंदी के बाद लोगों के गुस्से का शिकार यह सज्जन कौन हैं? क्या यह केंद्रीय मंत्री तो नहीं हैं.

manish tiwari tweet

इसके बाद डॉ. हर्षवर्धन ने ट्वीट कर कहा था कि इस वीडियो में दिख रहा शख्स वह नहीं हैं. Dr Harsh Vardhan @drharshvardhan ने 27 नवंबर 2016 को ट्वीट किया,
A video in my name is making rounds on whatsapp and other media.
It’s misleading content being spread with malicious and mischievous intent.
मतलब मेरे नाम से एक वीडियो व्हाट्सऐप और अन्य मीडिया पर वायरल हो रहा है. यह गलत है.

Janta Ka Reporter में पब्लिश खबर के अनुसार, वीडियो में दिख रहा शख्स सुब्रत मिश्रा हैं, जिन्हें टीएमसी कार्यकर्ताओं ने पीटा है.

गूगल पर और सर्च करने पर हमें ANI News Official यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो मिला. इसके मुताबिक, भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो पर टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया था. इसमें भाजपा नेता की पिटाई का यह वायरल वीडियो भी है. इसको लेकर बाद में कुछ न्यूज वेबसाइट्स ने दावा किया था कि इसका संबंध भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो पर हमले से संबंधित हैं.

Hoaxorfact के अनुसार, यह घटना 19 अक्टूबर 2016 की है. पश्चिम बंगाल के आसनसोल में भाजपा नेता सुब्रत मिश्रा पर टहलते समय टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया था. इसके बाद बाबुल सुप्रियो उनके समर्थन में वहां गए थे तो उन पर भी पत्थर फेंका गया था.

BJP MP Harshwardhan video viral

Postmortem रिपोर्ट: वायरल वीडियो में केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन नहीं बल्कि भाजपा नेता सुब्रत मिश्रा हैं. इससे पहले भी इस दावे के साथ यह वीडियो कई बार वायरल किया जा चुका है. इसको लेकर खुद केंद्रीय मत्री सफाई दे चुके हैं. यह दावा झूठा है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : झूठ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash