Home Political सच Fact Check: महबूबा मुफ्ती के बयान पर कुर्ता फाड़ने वाले जावेद कुरैशी...

Fact Check: महबूबा मुफ्ती के बयान पर कुर्ता फाड़ने वाले जावेद कुरैशी भाजपा नेता नहीं हैं, फ्रॉड का लगा है आरोप

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि जब तक कश्मीर में आर्टिकल 370 फिर से लागू नहीं किया जाएगा, वह तिरंगा नहीं उठाएंगी.

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के बयान पर सियासत तेज हो गई है. जम्मू—कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि जब तक कश्मीर में आर्टिकल 370 फिर से लागू नहीं किया जाएगा, वह तिरंगा नहीं उठाएंगी. इस पर जहां सोमवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने जम्मू में पीडीपी कार्यालय पर तिरंगा लहरा दिया, वहीं एक नेता जी ने भी अपना कुर्ता फाड़ दिया और महबूबा को पाकिस्तान भेजने की चेतावनी दे डाली. अब कुर्ता फाड़ने वाले नेता को लोग भाजपा का बताकर ट्विटर पर वायरल कर रहे हैं. The News Postmortem ने भी कुर्ता फाड़ने वाले नेता जी का बायोडाटा खोजा.

वरिष्ठ पत्रकार और न्यूज 24 के एंकर मानक गुप्ता ने 24 अक्टूबर को नेता जी का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा,
कुर्ता फाड़ कर बोले BJP नेता, “इस सीने में है तिरंगा. महबूबा को पाकिस्तान भगा दूँगा.” #JavedQureshi
वीडियो में नेता जी अपना कुर्ता फाड़कर कहते हैं कि हिंदुस्तान इस दिल में बसता है. इस दिल से तिरंगे को कोई नहीं निकाल सकता है. अगर दोबारा ऐसा बयान देने की कोशिश की तो वह उन्हें पाकिस्तान भगा देंगे. वीडियो में नेता जी ने अपना नाम जावेद कुरैशी बताया.
सोशल मीडिया पर जावेद कुरैशी को भाजपा का नेता बताया जा रहा है.

ANV News ने भी इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा,
BJP नेता जावेद कुरैशी कपड़े फाड़ के बोले – दिल में बसता है तिरंगा

Javed Qureshi of Handwara

यह भी पढ़़ें: Fact Check: यह कांग्रेसी नेता नहीं हैं हाथरस की ‘नक्सल भाभी’, फर्जी पोस्ट से इनको बदनाम मत करें

जावेद कुरैशी की इतनी अच्छी बात पर हमने इनकी प्रोफाइल तलाशनी शुरू की. गूगल पर तलाशने पर हमें दैनिक जागरण की खबर का लिंक मिला. 25 अक्टूबर को छपी खबर के मुताबिक, जावेद कुरैशी ने अपना कुर्ता शनिवार को हंदवाड़ा में फाड़ा था. जावेद कुरैशी उर्फ जावेद मौलवी कपड़े फाड़ते हुए महबूबा को ऐसा बयान नहीं देने की चेतावनी भी दी है. जावेद ने महबूबा को हिरासत में लेने की मांग भी उपराज्यपाल से कर डाली. वह खुद का भाजपा का नेता बताते हैं. हालांकि, भाजपा के वरिष्ठ नेता उनके भाजपाई होने से इंकार कर रहे हैं.

अब सवाल उठता है कि भाजपा ने जावेद को पार्टी का सदस्य होने से इंकार क्यों किया. इसके लिए हमें गूगल पर 30 सितंबर की जी न्यूज की खबर मिली. इसके अनुसार, भाजपा ने जम्मू—कश्मीर में दो नेताओं को फर्जीवाड़ा करने पर पार्टी से निकाल दिया है. इनमें से एक का नाम राजू चंदेल है जबकि दूसरे का जावेद मौलवी उर्फ जावेद कुरैशी. जी हां, कुर्ता फाड़ने वाले जावेद कुरैशी. उन पर लोगों को पार्टी के नाम गुराह करने का आरोप है. इतना ही नहीं जावदे कुरैशी पर तो गंभीर आरोप लगा. कहा गया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर उत्तरी कश्मीर में लोगों को गुमराह कर रहे हैं. उनके खिलाफ काफी समय से शिकायतें मिल रही थीं. मतलब अब जावेद भाजपा में नहीं हैं. बाकायदा श्रीनगर में प्रेसकांफ्रेंस करके बताया गया कि पार्टी के नाम से ये लोगों को चूना लगा रहे थे.

Javed Qureshi

30 सितंबर को ही thekashmiriyat में छपी खबर के मुताबिक, वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व एमएलसी सोफी यूसुफ ने कहा था कि राजीव चंदेल ‘बीजेपी मोदी—शाह मिशन’ चलाता है. उसने जावेद कुरैशी को प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष नामित किया हुआ है. उन्होंने कई लोगों से मिलकर इस बात का भरोसा भी दिलाया है. इन लोगों ने फ्रॉड किया है. लोगों के पैसे हड़पे हैं. उन्होंने पुलिस से दोनों की गिरफ्तारी की मांग की है.

Postmortem रिपोर्ट: महबूबा के बयान पर कुर्ता फाड़ने वाले नेता जावेद कुरैशी उर्फ जावेद मौलवी भाजपा में नहीं हैं. साथ में उन पर फ्रॉड के भी आरोप लग चुके हैं. इससे पहले जब गृह मंत्री अमित शाह कोविड—19 के शिकार हुए थे तब जावेद कुरैशी रोजा रखने की बात कर चर्चा में आए थे.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Fact Check: क्या बीमार मां का इलाज कराने आए फौजी लक्ष्मण को पुलिसवालों ने बुरी तरह पीटा? जानिए क्या है सच

सोशल मीडिया पर दो वीडियो और कुछ फोटो तेजी से वायरल हो रहे हैं. इसमें एक में वीडियो में टाइटल Justice for...

Fact Check: इस फोटो में दिख रही बुजुर्ग महिला Akshay Kumar की मां नही हैं, जानिए कौन हैं ये

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का 8 सितंबर की सुबह निधन हो गया. वह मुंबई स्थित हीरानंदानी अस्पताल...

Recent Comments

vibhash