Home Political सच Fact-Check : क्या 'टाइम मैगजीन' ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना तानाशाह...

Fact-Check : क्या ‘टाइम मैगजीन’ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना तानाशाह हिटलर से की ?

The News Postmortem : सोशल मीडिया पर टाइम मैगजीन के एक कथित कवर की एक तस्वीर वायरल हो रही है , जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना एडोल्फ हिटलर से की जा रही है।

सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रियाएं : 

फेसबुक यूजर राकेश राओ ने वायरल कवर को शेयर करते हुए लिखा है – #ByeByeModi

यह कवर तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के सोशल मीडिया संयोजक वाई सतीश रेड्डी द्वारा साझा किया गया था, जिसमें लिखा था, “मोदी एक ऐसे पीएम हैं जिनके पास कोई दृष्टि नहीं है, कोई बुद्धि नहीं है और राष्ट्र के जरूरतमंदों के उत्थान की कोई इच्छा नहीं है। उसके पास बस सत्ता की भूख है! #ByeByeModi”

पड़ताल : द न्यूज़ पोस्टमार्टम ने अपनी पड़ताल शुरू की। वायरल कवर का सच जानने के लिए हमने टाइम मैगजीन की वेबसाइट का दौरा किया। हमने टाइम मैगजीन के सभी अंकों को गौर से देखा लेकिन हमें वायरल कवर से सम्बंधित कोई जानकारी नहीं मिली। 

पड़ताल के दौरान हमें 28 जून 2017 को The Guardian में प्रकाशित एक लेख मिला। जिसकी हेडिंग है – “टाइम मैगजीन ने ट्रंप से गोल्फ क्लबों के प्रदर्शन से नकली कवर हटाने को कहा”

इस खबर के बारे में हमें वाशिंगटन पोस्ट का एक ट्वीट मिला। इसके कैप्शन में लिखा है – “कवर पर ट्रम्प के साथ एक टाइम मैगज़ीन, उनके गोल्फ़ क्लबों में लटकी हुई है। यह तस्वीर नकली है।”(हिन्दी अनुवाद)

टाइम के एक प्रवक्ता ने कहा कि यह तस्वीर 1 मार्च 2009 की है, जो किसी भी प्रारूप में पत्रिका में कभी नहीं चली।असली मार्च संस्करण में अभिनेता केट विंसलेट को दिखाया गया था।

वहीं हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की नकली तस्वीर और मिलीं जो खूब वायरल हुई थी लेकिन पड़ताल में उन्हें नकली पाया गया। इसलिए इससे यह निष्कर्ष निकाला गया कि टाइम मैगजीन को आधार बनाकर इस तरह के कवर समय-समय पर वायरल होते रहते हैं जिन पर बिना सन्दर्भ के विश्वास नहीं किया जा सकता।

पोस्टमार्टम : द न्यूज़ पोस्टमार्टम ने अपनी पड़ताल में टाइम के इस कवर को नकली पाया है। टाइम मैगजीन ने इस तरह का कोई कवर जारी नहीं किया। 

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : झूठ

Pratayksh Mishrahttps://thenewspostmortem.com/
Pratayksh Mishra is the editor of the 'The News Postmortem'. He keeps vision on viral claims. You can contact here. Email - prataykshmishra@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Fact-Check : क्या दस लाख रोजगार देने के वादे से मुकर गए हैं बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ?

The News Postmortem : बिहार में एनडीए सरकार से बाहर होने के बाद नीतीश कुमार पर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही...

Fact-Check: बिहार में JDU कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा समर्थकों पर हमला बताने वाले वीडियो का सच यह निकला

The News Postmortem : बिहार में एनडीए गठबंधन से बाहर होने के बाद जेडीयू और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच सोशल मीडिया पर...

Fact-Check : सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में नजर आ रही यह लड़की क्या निखत जरीन हैं ?

The News Postmortem : सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ विकलांग लड़कियां दौड़ती नजर आ रही हैं। वीडियो...

Fact-Check: NSA अजीत डोभाल ने योगी आदित्यनाथ के प्रधानमंत्री बनने की भविष्यवाणी की ? क्या है हकीकत ?

The News Postmortem : सोशल मीडिया पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के नाम से एक पोस्ट वायरल हो रही है। जिसमें वह...

Recent Comments

vibhash