Home Political सच #FactCheck क्या ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मिले हैं मंदिर के अवशेष, जानिए...

#FactCheck क्या ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मिले हैं मंदिर के अवशेष, जानिए क्या है सच

भाजपा नेता ​कपिल मिश्रा ने 6 सितंबर को kreately.in का आर्टिकल ट्वीट किया है. इसके साथ में लिखा है, काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे भव्य हिन्दू मंदिर के सबूत मिले हैं.

क्या काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मिले भव्य हिन्दू मंदिर के सबूत मिले हैं? भाजपा नेता ​कपिल मिश्रा ने इस तरह का ट्वीट किया है. इस बारे में kreately.in पर 6 सिंतबर 2020 को आर्टिकल भी छपा है. इसके बाद यह ट्वीट वायरल हो गया है. इस पर कई लोगों ने कमेंट किए हैं.

कपिल मिश्रा ने 6 सितंबर को इस आर्टिकल को ट्वीट किया. इसके साथ में मैसेज लिखा,
BIG Breaking: काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मिले भव्य हिन्दू मंदिर के सबूत
गुरुवार को हुई खुदाई के दौरान मिले मस्जिद के नीचे भव्य हिन्दू मंदिर होने के अकाट्य सबूत
काशी मुक्ति का आंदोलन होगा और तेज.
इस ट्वीट को करीब 10 हजार लोग रिट्वीट कर चुके हैं.

पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें.

‘काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मिले भव्य हिन्दू मंदिर के सबूत’ टाइटल वाले आर्टिकल में लिखा है कि गुरुवार को काशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मैदान में करीब 500 साल पुराने मंदिर के अवशेष मिले हैं. काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर निर्माण काम कच रह है. इस दौरान शृंगार गौरी के पास ये अवशेष मिले. माना जा रहा है कि ये अवशेष 16वीं सदी के मंदिरों से मेल खाते हैं. इसमें कलश और कमल के फूल देखे जा सकते हैं. ज्ञानवापी मैदान में एक सुरंग जैसा बड़ा सुराख भी मिला है.

Kashi Vishwanath Mandir and Gyanwapi Masjid Dispute
Source: Google

इस बारे में गूगल पर सर्च करने पर हमें अमर उजाला की खबर का लिंक मिला. 4 सितंबर को पब्लिश खबर के मुताबिक, मंदिर के अवशेष श्री काशी विश्वनाथ धाम में खुदाई के दौरान मिले हैं. इसके 16वीं शताब्दी से भी पुराने होने की संभावना जताई जा रही है. जेसीबी से श्रृंगार गौरी के पास खुदाई के दौरान ये अवशेष मिले हैं. इन पर कलश और कमल की आकृतियां हैं. दससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि ये किसी मंदिर के अवषेश हैं. इससे पहले भी यहां खुदाई के दौरान चंद्रगुप्त काल या उससे भी प्राचीन मंदिर मिल चुके हैं. इतना ही नहीं मणिकर्णिका घाट के किनारे रथ पर बना अद्भुत शिव मंदिर भी मिला है. यह दक्षिण भारतीय शैली में बना हुआ है. मंदिर में समुद्र मंथन से लेकर कई पौराणिक कथाएं दिख जाएंगी. इस खबर में हमें कहीं भी ज्ञानवापी मस्जिद के नीचे मंदिर के अवशेष मिलने की बात नजर नहीं आई.

Kashi Vishwanath Mandir and Gyanwapi Masjid Dispute
Source: Network 18

News 18 के मुताबिक, प्राचीन मंदिरों के अवशेष ज्ञानवापी मस्जिद के पास मिले हैं. पुरातत्व विभाग की टीम अवशेष के कुछ हिस्से जांच के लिए ले गई है. मंदिर के अवशेष मिलने के बाद उस जगह पर खुदाई बंद कर दी गई है.

Kashi Vishwanath Mandir and Gyanwapi Masjid Pic
Source: Amar Ujala

Wikipedia के अनुसार, ज्ञानवापी मस्जिद उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित है. मुगल शासक औरंगजेब ने 1669 में मंदिर को तोड़कर इस मस्जिद का निर्माण कराया था. इसकी दीवारों पर मंदिर के अवशेष देखे जा सकते हैं.

Gyanwapi Mosque Pic
Source: Google

काशी विश्वनाथ मंदिर व ज्ञानव्यापी मस्जिद का मामला कोर्ट में विचाराधीन है. इसको लेकर 1991 में वाराणसी की कोर्ट में मुकदमा दायर किया गया था. स्वयंभू ज्योतिर्लिंग भगवान विश्वेश्वर की ओर से पंडित सोमनाथ व्यास व अन्य ने यह मुकदमा दायर किया था. अमर उजाला के मुताबिक, इस मामले में मंदिर ट्रस्ट का कहना है कि 2050 साल पहले पूर्व राजा विक्रमादित्य ने मंदिर का निर्माण कराया था. औरंगजेब ने 1664 में मंदिर को ध्वस्त करके मस्जिद का निर्माण कराया था. कोर्ट से मांग की गई है कि मस्जिद को हटाकर ट्रस्ट को इस जमीन पर कब्जा दिया जाए.

Postmortem रिपोर्ट: वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के निर्माण का काम चल रहा है. खुदाई में कई मंदिरों के अवशेष मिल रहे हैं. इसमें 3 सितंबर को भी मंदिर के अवशेष मिले हैं. हालांकि, यह कहना गलत​ होगा कि ये अवशेष ज्ञानवापी म​स्जिद के नीचे मिले हैं.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK : भ्रामक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash