Home History हकीकत #FactCheck 1948 में नेहरू ने नहीं बनवाया था अंबाला एयरबेस, गलत है...

#FactCheck 1948 में नेहरू ने नहीं बनवाया था अंबाला एयरबेस, गलत है कांग्रेस नेता का ट्वीट

क्या अंबाला एयरबेस को पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1948 में बनवाया था? कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट कर ऐसा दावा किया है. इसे फेसबुक पर भी कुछ यूजर्स ने पोस्ट किया है.

7 हजार किलोमीटर की दूरी तय करके राफेल भारत के अंबाला में पहुंच चुके हैं. भारतीय मीडिया में भी कुछ दिन से राफेल ही छाए हुए हैं. भाजपा समेत सभी दलों की जुबान पर राफेल का नाम है. जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत मंत्री राफेल का स्वागत कर रहे हैं, वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत ज्यादातर नेता स्वागत के साथ ही भाजपा से सवाल भी पूछ रहे हैं.

Rafale Images
Source: Google

इस बीच सोशल मीडिया पर एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रही है. कांग्रेस नेता एवं कल्कि पीठाधीश्वर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने 28 जुलाई को अपने ट्विटर अकाउंट @AcharyaPramodk से ट्वीट किया,
अंबाला AIR BASE भी 1948 में, पंडित नेहरू ने ही बनाया था,भारत भूमि पर “राफ़ेल” पहली बार यहीं उतरेगा. #RafaleJets
इस ट्वीट को अब तक 4600 से ज्यादा लोगों ने रिट्वीट किया है जबकि 21 हजार से ज्यादा लोगों ने इसे लाइक किया है.

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

इसके जवाब में Dr. Vedika @vishkanyaaaa ने लिखा,
अंबाला एयरबेस 1919 में स्थापित हुआ था. 18 जून 1938 को इसे परमानेंट एयर बेस बना दिया गया था.
1919 और 1938 में नेहरू प्रधानमंत्री नहीं थे.

Ambala Air Force Station History in Hindi

The News Postmortem को फेसबुक पर कुछ ऐसी पोस्ट मिली, जिनमें यहीं दावा किया गया है. मनोज सिंह ने 28 जुलाई को एक पोस्ट की है. इसमें भी दावा किया गया है,
अंबाला AIR BASE भी 1948 में, पंडित नेहरू ने ही बनाया था,भारत भूमि पर “राफ़ेल” पहली बार यहीं उतरेगा. #RafaleJets

अंबाला AIR BASE भी 1948 में, पंडित नेहरू जी ने ही बनाया था,भारत भूमि पर “राफ़ेल” पहली बार यहीं उतरेगा.#RafaleJets

Posted by Manoj Singh on Tuesday, July 28, 2020

आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें.

ये पोस्ट सामने आने के बाद हमने इसकी गूगल पर खोजबीन शुरू की. Wikipedia के मुताबिक, 1919 में हरियाणा के अंबाला में एयरफोर्स स्टेशन की स्थापना हुई थी. 1919 में यहां एक Flying Instruction School (FIS) भी बना था. 1938 में अंबाला एयर फोर्स स्टेशन को स्थायी बेस बना दिया गया. भारतीय वायुसेना इसका संचालन करती है. इंडियन एयरफोर्स का यह बहुत ही अहम एयरबेस है. यहां से भारत—पाक सीमा की दूरी 220 किलोमीटर है. पुलवामा पर हुए आतंकी हमले के जवाब में 26 फरवरी 2019 को मिराज फायटर जेट ने इसी एयरबेस से उड़ान भरी थी.

Ambala Air Force Station Image
Source: Zee News

आज तक के अनुसार, अंबाला को पहले उमबाला कहा जाता था. 1919 में यहां पर रॉयल एयर फोर्स (आरएएफ) का 99 स्क्वाड्रन का बेस था. सितंबर 1919 में रॉयल एयर फोर्स (आरएएफ) का 99 स्क्वाड्रन उमबाला (Umbala) में बेस था. तब अंबाला को उमबाला ही कहा जाता था. बाद में 99 स्क्वाड्रन को 114 आरएफए स्क्वॉड्रन बना दिया गया. फिर 114 आरएफए स्क्वाड्रन 29 आरएफए स्क्वाड्रन में बदला. फरवरी 1939 तक यह अंबाला एयरबेस से ही संचालित होता रहा. 18 जून 1938 को इसे परमानेंट एयरबेस का दर्जा मिल गया. भारत को आजादी मिलने के बाद इंडियन एयरफोर्स के मार्शल अर्जन सिंह ने इस एयरबेस की कमान संभाली थी. 1965 और 1971 में पाकिस्तान के फाइटर जेट ने अंबाला एयरबेस पर हमला किया था, लेकिन पाकिस्तान अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो सका था. बालाकोट एयरस्ट्राइक के लिए भी भी मिराज 2000 ने यहीं से उड़ान भरी थी.

Postmortem रिपोर्ट: गूगल पर काफी सर्च करने के बाद ही हमें इस बात के सबूत नहीं मिले कि अंबाला एयरबेस को 1948 में भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने बनवाया था. अंबाला एयरबेस 1919 में बना था और 1938 में यह स्थायी एयरबेस बन गया था. इस दौरान जवाहर लाल नेहरू प्रधानमंत्री नहीं थे इसलिए यह कहना गलत होगा कि अंबाला एयरबेस को नेहरू ने बनवाया था. आचार्य प्रमोद कृष्णम का ट्वीट गलत है.

डोनेट करें!
न हम लेफ्ट के साथ हैं और न राइट के साथ. हम बस सच के साथ हैं. पत्रकारिता निष्पक्ष होनी चाहिए. फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरों के खिलाफ हम हमेशा जंग लड़ते रहेंगे और आपको ऐसी फेक पोस्ट से सचेत करते रहेंगे. अगर आप हमारा समर्थन करते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें हमें कुछ आर्थिक मदद दें और हमारा उत्साह बढ़ाएं.

Donate Now

FACT CHECK :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fact Check: जमीन पर गिरे शख्स पर कूदने वाला फोटोग्राफर गिरफ्तार, जानिए किस संस्थान के साथ जुड़ा है आरोपी

असम में पुलिस फायरिंग और लाठीचार्ज के बाद राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा जा रहा है. इसकी कई तस्वीरें और वीडियो...

Fact Check: क्या BBC के भ्रष्ट पार्टियों के सर्वे में Congress तीसरे नंबर पर है? जानिए क्या है सच

क्या BBC ने कोई सर्वे कराया है? जिसमें रिजल्ट आया है कि विश्व की 10 सबसे भ्रष्ट राजनैतिक पार्टियों में कांग्रेस तीसरे...

Fact Check: हाईकोर्ट ने लगाई थी गंगा व यमुना में मूर्ति विसर्जित करने पर रोक, अखिलेश यादव ने नहीं रोका था गणपति विसर्जन से

क्या सन् 2015 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आदेश पर वाराणसी में गणपति के प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगी थी? क्या...

Fact Check: नागपुर में CM आवास के पास हिंदू लड़कियों ने अपनी मर्जी से पहना हिजाब, जानिए कब होता है World Hijab Day

क्या नागपुर में कुछ मुस्लिम महिलाओं ने हिंदू लड़कियों को हिजाब पहनाया है? इस तरह के दावे के साथ सोशल मीडिया पर...

Recent Comments

vibhash